Desires (दिल के अरमान)

(Desires) दिल के अरमान 

तू जो ख्वाबो में आये तो मेला कर दे,

गम के मरुथल में प्यार का रेला कर दे!

याद वो हे ही नहीं जो तन्हाई में आये,

तेरी याद आये तो मेले में अकेला कर दे!

तू हवा हे तो कर ले अपने हवाले मुझको,

इससे पहले की कोई और बहा ले मुझको!

आइना बनके गुजारी हे जिंदगी मैंने,

टूट जाऊंगा बिखरने से बचा ले मुझको!

जबभी कहते तो आप हमसे की अब चलते है,

हमारी आँख से आंशूं  नहीं सम्भलते है!

अब ना  कहना की संगे दिल कभी नहीं रोते,

जितने दरिया हे पहाड़ो से  ही निकलते है!

                                                                                                                                                               By:

731total visits,2visits today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *